पांचवा चरणः 7 राज्यों की 51 सीटों पर वोटिंग, यूपी की 14 सीटें

नई दिल्ली। 17वीं लोकसभा चुनने के लिए पांचवें चरण में 7 राज्यों की 51 सीटों पर 6 मई को मतदान होगा. इस चरण में 8.76 करोड़ मतदाता 674 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे. पांचवें चरण में यूपी की 14 सीटों पर वोटिंग हो रही है, जबकि जम्मू कश्मीर की दो सीटों पर मतदान होगा. 2014 के नतीजों के आधार पर बीजेपी इस चरण में सबसे मजबूत पार्टी दिखाई देती है, वहीं कांग्रेस के लिए चैथे चरण की तरह यहां भी बेहद मुश्किल चुनौती है.
किस राज्य की कितनी सीटों पर मतदान
उत्तर प्रदेश- 14
बिहार- 5
मध्य प्रदेश- 7
राजस्थान- 12
झारखंड- 4
पश्चिम बंगला- 7
जम्मू-कश्मीर – 2
कौन कितनी सीटों पर लड़ रहा है चुनाव
बीजेपी- 48
कांग्रेस- 46
बीएसपी- 33
सीपीएम- 11
एसपी- 09
शिवसेना- 05
सीपीआई- 03
निर्दलीय- 511
2014 में किसको कितनी सीटें
बीजेपी- 39
एलजेपी- 1
आरएलएसपी- 1
कांग्रेस- 2
टीएमसी- 7
पीडीपी- 1
8.76 करोड़ मतदाता डालेंगे वोट
पांचवें चरण में कुल 8.76 करोड़ मतदाता 674 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला तय करेंगे. चुनाव आयोग ने इस चरण में वोटिंग के लिए कुल 96 हजार 88 मतदान केंद्र बनाए हैं. पांचवें चरण में 8.76 करोड़ मतदाताओं में से 4.63 वोटर पुरुष हैं, जबकि 4.13 करोड़ वोटर महिलाएं हैं. इस चरण में 2,214 थर्ड जेंडर अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे.
बीजेपी के सबसे ज्यादा उम्मीदवार दागी
दागी उम्मीदवारों को टिकट देने के मामले में बीजेपी सबसे आगे है. बीजेपी के 48 में से 22 उम्मीदवार आपराधिक छवि के हैं. बीजेपी के 19 उम्मीदवारों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. कांग्रेस भी आपराधियों को टिकट देने के मामले में ज्यादा पीछे नहीं है. कांग्रेस के 45 में से 14 उम्मीदवार दागी हैं, जबकि 13 के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. बीएसपी के 33 में से 9 उम्मीदवार आपराधिक छवि के हैं. सीपीएम के भी 11 में से 5 उम्मीदवार दागी हैं. एसपी ने 9 में से 7 दागी उम्मीदवारों को टिकट दिया है. शिवसेना का 5 में से 1 उम्मीदवार आपराधिक छवि का है. सीपीआई के 3 उम्मीदवारों में से 1 दागी है.
पूनम सिन्हा सबसे अमीर कैंडिडेट
लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में 668 में से 184 प्रत्याशी ऐसे हैं, जिनकी कुल संपत्ति एक करोड़ रुपये या उससे अधिक है. करोड़पति उम्मीदवारों को टिकट देने के मामले में बीजेपी सबसे आगे है और उसके 48 में से 38 उम्मीदवार करोड़पति हैं. कांग्रेस इस मामले में दूसरे नंबर पर है और उसके 45 में से 32 उम्मीदवार करोड़पति हैं.
पूनम सिन्हा ने 193 करोड़ रुपये घोषित की है और वह इस चरण की सबसे अमीर उम्मीदवार हैं. उनके बाद सीतापुर से प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के उम्मीदवार विजय कुमार मिश्रा 177 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ दूसरे स्थान पर हैं. सूची में तीसरे स्थान पर 77 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ बीजेपी के हजारीबाग से उम्मीदवार जयंत सिन्हा हैं.
14 उम्मीदवारों के पास पीएचडी की डिग्री
इस चरण में चुनाव लड़ रहे 14 उम्मीदवारों के पास पीएचडी की डिग्री है. 162 उम्मीदवारों नो पोस्ट ग्रेजुएशन किया है. 201 कैंडिडेट ऐसे हैं, जिन्होंने ग्रेजुएशन किया है. वहीं 77 उम्मीदवारों ने प्रोफेशनल कोर्स में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल कर रखी है.
पांचवें चरण में 142 उम्मीदवार बारहवीं पास हैं. 120 उम्मीदवारों ने 10वीं क्लास पास की है. 98 उम्मीदवारों ने 8वीं क्लास तक पढ़ाई की है. 44 उम्मीदवार ऐसे हैं जिन्होंने 5वीं तक पढ़ाई की है. 34 उम्मीदवार स्कूल तो गए हैं, पर 5वीं तक पढ़ाई नहीं की. 9 उम्मीदवारों ने खुद को निरक्षर बताया है.
सोनिया, राहुल, समृति, राजनाथ की किस्मत दांव पर
इस चरण में यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, स्मृति ईरानी, राजनाथ सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी, केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा, तृणमूल कांग्रेस के दिग्गज नेता दिनेश त्रिवेदी की किस्मत दांव पर लगी है.