महिला बीजेपी प्रवक्ता ने मणिशंकर अय्यर को बताया ‘बेहूदा’ और ‘दो टके का नेता’

नई दिल्ली। बीजेपी की महिला प्रवक्ता अनिला सिंह ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर को ‘बेहूदा’ और ‘दो टके का नेता’ करार दिया है। एक टीवी चैनल के लाइव डिबेट शो के दौरान उन्होंने भाषाई मर्यादा को तार-तार करते हुए कांग्रेस नेता पर जमकर हमला बोला। बता दें कि अय्यर ने एक लेख में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘नीच किस्म का आदमी’ कहा है। जब शो के एंकर ने उनसे इस पर सवाल पूछा कि कांग्रेस पार्टी के नेता (मणिशंकर अय्यर) ने 2017 के बाद अपनी चुप्पी तोड़ी है और खुशी की लहर बीजेपी के खेमे में नजर आ रही है और सरकार के बड़े-बड़े मंत्री उनके बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे हैं?
एंकर के सवाल का जवाब देते हुए बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि ‘यह खुशी की लहर नहीं है, मुझ जैसे कार्यकर्ताओं का बस चले तो इनको (मणिशंकर) जन-अदालत में खड़ा कर इनके ऊपर सवालों की बौछार कर दें। पर मुझे उनके बयान पर ताज्जुब नहीं होता क्योंकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी खुद गाली-गलौज करते हैं। और यही नहीं उनके राजनीतिक गुरु खुद भी गाली देते हैं तो ऐसे राजनीतिक दल से आप क्या अपेक्षा रखेंगे। तो ऐसे में इनके नेता कैसे सही भाषा का प्रयोग करेंगे। मणिशंकर एक ‘बेहूदा’ किस्म की राजनेता हैं जिन्हें बिल्कुल भी अक्ल नहीं है कि किस प्रकार के शब्दों को प्रयोग करना है। और सबसे बड़ी बात उनकी पार्टी के नेता ये कहकर पल्लू झाड़ लेते हैं कि यह उनके निजी विचार हैं। तो फिर आप सैम पित्रोदा से माफी मांगने के लिए क्यों कह रहे हैं उनके विचारों को भी निजी विचार करार दें कांग्रेस पार्टी।’
इसके बाद एंकर ने उनसे पूछा कि बीजेपी के खेमें में खुशी की लहर इसलिए है क्योंकि बीजेपी को अब उम्मीद है कि मणिशंक अय्यर का बयान उन्हें एक बार फिर फायदा पहुंचा देगा। सवाल सुनते ही बीजेपी प्रवक्ता भड़क जाती हैं और कहत हैं ‘मणिशंकर जैसे ‘दो टके के नेता’ किनारे पड़े रहते हैं। उनकी औकात क्या है। ऐसे नेताओं की 2 मिनट के लिए मीडिया में आने की चाहत रहती है। उनके नीच कहने न तो नरेंद्र मोदी नीच हो जाएंगे लेकिन उनके बयान से उनकी औकात का पता चल गया है।
कांग्रेस नेता ने अपने लेख के जरिए 2017 के गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान मोदी के खिलाफ दिए अपने ‘नीच आदमी’ बयान को सही ठहराया है। लेख में कांग्रेस नेता ने पीएम मोदी के हाल के बयानों का हवाला देते हुए कहा कि ‘याद है मैंने 2017 में उन्हें क्या कहा था। क्या मेरी भविष्यवाणी सही नहीं थी।’ मणिशंकर अय्यर ने 2017 में कहा था कि ‘मुझको लगता है कि यह आदमी बहुत ही नीच किस्म का आदमी है। इसमें कोई सभ्यता नहीं है।