नतीजों से पहले केसीआर और जगन मोहन रेड्डी को विश्वास में लेने की कोशिश में सोनिया गांधी

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव का रिजल्ट आने में अभी करीब सात दिन का समय है लेकिन परिणामों की संभावनाओं को देखते हुए राजनीतिक दल अभी से जोड़तोड़ में जुड़ गए हैं। जानकारी के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कुछ विपक्षी दलों जो यूपीए का हिस्सा नहीं हैं उनके नेताओं से फोन पर बात की है। पहले कहा जा रहा था कि सोनिया गांधी ने इन नेताओं को चिट्ठी लिखी है। जगन रेड्डी कल विदेश से वापस लौट रहे हैं। चुनाव नतीजों से पहले सोनिया गांधी जगन रेड्डी और केसीआर को विश्वास में लेना चाहती हैं।
बता दें कि कुछ ही दिन पहले दिल्ली मे आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने काग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी। जिसमें केसीआर और जगन रेड्डी को लेके चर्चा हुई। दरअसल कुछ दिन पहले कांग्रेस कोर ग्रूप की बैठ हुई थी जिसमें चिदम्बरम और कुछ नेताओं ने कहा कि किसी को भी बहुमत नहीं मिल रहा है ऐसे मे हमें यूपीए के अलावा बाकि पार्टियों से भी बात करनी चाहिए।
इसके बाद काग्रेस नेता केवी थोमस ने जगन रेडी के करीबी और उनके रणनीतिकार सुब्बा रेड्डी से मुलाकात कर यूपीए को समर्थन देने की बात कही। इस मुलाकात में सुब्बा रेड्डी ने कोई भरोसा नहीं दिया क्योंकि जगन रेड्डी अभ विदेश में हैं और वे 16 मई यानी कल भारत लौटेंगे। इसी बीच तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी से बात की और कहा कि वो कांग्रेस को तीसरे मोर्च को समर्थन देने के लिए राजी करे।