मुलायम की बहू अपर्णा भी हुई मुखर, हार पचाना सीखें मायावती

लखनऊ। यूपी में चुनावी हार के बाद सपा-बसपा की तनातनी के बीच अब अपर्णा यादव ने भी मायावती पर निशाना साधा है। अपर्णा यादव का कहना है कि समाजवादी पार्टी के लिए मायावती का रुख जानकर बेहद दुख हुआ। अपर्णा ने ट्वीट कर कहा है कि जो सम्मान पचाना नहीं जानता, वो अपमान भी नहीं पचा पाता। अपर्णा यादव ने कहा कि अगर इस बार लोकसभा चुनाव में बड़ी सफलता मिलती तो मायावती सारा श्रेय खुद ही ले लेतीं। उनको हार पचाने का भी साहस रखना चाहिए।
अपर्णा यादव ने आज बसपा मुखिया मायावती पर तंज कसा है। अपर्णा ने ट्वीट किया है। उन्होंने कहा है कि जो सम्मान पचाना नहीं जानता, अपमान भी नहीं पचा पाता है। अपर्णा यादव ने ट्वीट किया, कि समाजवादी पार्टी के बारे में मायावती जी का रुख जानकर बहुत दुख हुआ। यह तो शास्त्र में भी कहा गया है जो सम्मान पचाना नहीं जानता वह अपमान भी नहीं पचा पाता। अब तो उनको अपना बड़प्पन दिखाना ही चाहिए।
वहीं सपा के वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव ने कहा है कि बीएसपी से बड़ी हमारी पार्टी है। उन्होंने कहा कि अगर यादवों ने वोट नहीं दिया होता तो बीएसपी 10 की जगह 4 या 5 सीटों पर ही सिमट जाती।
सपा-बसपा के बीच बढ़ती रार के बीच दोनों ही पार्टियों की तरफ से लगातार बयान आ रहे हैं। दोनों पार्टियों की तरफ से आगामी विधानसभा उपचुनाव अकेले लड़ने की घोषणा भी की जा चुकी है। पहले बीएसपी की तरफ से खबर आने के बाद अब सपा ने भी ऐलान कर दिया है कि चुनाव अकेले लड़ा जाएगा।
मंगलवार को समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन टूटने की चर्चाओं के बीच बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने खुद आकर स्थिति साफ की है और फिलहाल गठबंधन पर ब्रेक लगाने की पुष्टि की. मायावती ने कहा कि अखिलेश व उनकी पत्नी मेरा बड़ा आदर करते हैं। मैंने भी डिंपल और अखिलेश को अपनाया है। लोकसभा चुनाव में सपा का बेस वोट मजबूती से हमारे साथ खड़ा नहीं था, लेकिन हमारे रिश्ते कभी खत्म नहीं होंगे।