वॉट्सऐप में बग खोजने पर इंडियन स्टूडेंट को मिला फेसबुक से इनाम

नई दिल्ली। पॉप्युलर मेसेजिंग ऐप वॉट्सऐप WhatsApp) में बग खोजने पर एक भारतीय स्टूडेंट को इनाम मिला है। वॉट्सऐप में इस मेमोरी करप्शन बग को केरल के 19 साल के एक इंजीनियरिंग स्टूडेंट ने खोजा है। इस भारतीय छात्र का नाम के एस अनंतकृष्णा है और वह बीटेक के स्टूडेंट हैं। अनंतकृष्णा ने जिस बग (ऐप में खामी या गड़बड़ी) को खोजा है, वह किसी दूसरे व्यक्ति को यूजर की जानकारी के बिना वॉट्सऐप पर फाइल्स को पूरी तरह हटाने की सहूलियत देता है। यानी, इस खामी के कारण कोई दूसरा व्यक्ति आपके वॉट्सऐप की फाइल्स को आपकी जानकारी के बिना हटा सकता है।
खामी के साथ बताया उसे दूर करने का सॉल्यूशन
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अलपुझा के रहने वाले अनंतकृष्णा ने करीब दो महीने पहले इस बग का पता लगाया था और इसके बारे में वॉट्सऐप पर मालिकाना हक रखने वाली फेसबुक के अधिकारियों को सूचित किया था। अनंतकृष्णा ने इस खामी का सॉल्यूशन भी बताया था। फेसबुक ने अनंतकृष्णा की तरफ से मुहैया कराए गए सॉल्यूशन को जांचा-परखा की और दो महीने के बाद इस खामी को दूर करने के लिए उन्हें सम्मानित करने का फैसला किया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फेसबुक ने अनंतकृष्णा को 500 डॉलर (करीब 34,000 रुपये) का नकद इनाम दिया है। साथ ही, फेसबुक ने अपनी प्रतिष्ठित हाल ऑफ फेम में भी अनंतकृष्णा को जगह दी है। फेसबुक के हाल ऑफ फेम में उन लोगों को जगह दी जाती है, जो कि उसके ऐप्लीकेशंस में खामियों के बारे में बताते हैं।
एथिकल हैकिंग पर रिसर्च कर रहे अनंतकृष्णा
फेसबुक की इस साल की लिस्ट में अनंतकृष्णा को 80वें स्पॉट पर रखा गया है। अनंतकृष्णा खुद को एथिकल हैकिंग पर रिसर्च करने में व्यस्त रखते हैं। उन्होंने केरल पुलिस के रिसर्च ऐंड डिवेलपमेंट सेंटर केरल पुलिस साइबरडॉम के साथ भी काम किया है। एक हालिया रिपोर्ट में रिसर्चर्स ने फेसबुक मेसेंजर के एक बग को लेकर चिंता जताई थी। इस बग ने वेबसाइट्स को ऐप के 130 करोड़ ग्लोबल यूजर्स के डेटा तक पहुंच बनाने में मदद की। हालांकि, बाद में इस खामी को दूर कर लिया गया।