अरुणाचल के लीपो में मिला वायुसेना के लापता एएन-32 विमान का मलबा

  • 3 जून को एयरफोर्स के 13 लोगों के साथ एएन-32 असम से लापता हुआ था
    —————————————————————————————————

नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना के लापता विमान एएन-32 का मलबा मिल गया है। विमान का मलबा अरुणाचल प्रदेश के लीपो के उत्तरी क्षेत्र में मिला है। यह विमान तीन जून को जोरहाट एयरपोर्ट से उड़ान भरने के बाद लापता हो गया था। इस पर 13 लोग सवार थे। भारतीय वायुसेना के एमआई-17 हेलीकॉप्टर ने मलबा बरामद किया है। एएन-32 विमान का अरुणाचल प्रदेश से जमीनी स्त्रोतों से अंतिम संपर्क तीन जून को हुआ था।
भारतीय वायुसेना ने जानकारी दी कि लापता एएन-32 विमान का मलबा लीपो से 16 किलोमीटर उत्तर की ओर विमान की खोज में लगे एमआई-17 हेलिकॉप्टर द्वारा देखा गया। विमान का मलबा जिस स्थान पर मिला है वह अरुणाचल प्रदेश में एएन-32 के उड़ान मार्ग से करीब 15-20 किलोमीटर उत्तर की ओर है। वायु सेना ने कहा कि बचे लोगों की स्थिति जानने के प्रयास किए जा रहे हैं। आगे की स्थिति की जानकारी जल्द ही साझा की जाएगी।
लगातार चल रहा था तलाशी अभियान
विमान की तलाश में वायु सेना, सेना, जिला और स्थानीय प्रशासन सघन तलाशी अभियान चला रहे थे। हेलीकॉप्टर और सी-130जे विमान दिन में खोजी अभियान चला रहे थे, जबकि यूएवी व सी-130जे विमान रात में अभियान जारी रख रहे थे। सेना, आईटीबीपी, राज्य पुलिस और स्थानीय लोग लगातार जमीन पर इसकी तलाश कर रहे थे।
खराब मौसम के कारण दो दिन से हवाई तलाशी अभियान में परेशानी आई थी, लेकिन सोमवार को फिर से इसे शुरू कर दिया गया था। गौरतलब है कि शनिवार को वायुसेना ने विमान का सुराग देने वाले को 5 लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की थी।
पायलट आशीष की पत्नी एटीसी में ड्यूटी पर थी
3 जून को असम के जोरहाट एयरबेस से उड़ान भरने के दौरान जब यह विमान लापता हुआ, तब पायलट अशीष तंवर की पत्नी संध्या ही एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) में ड्यूटी कर रही थीं। विमान से संपर्क टूटने के करीब एक घंटे बाद उन्होंने परिजनों को इस घटना की सूचना दी थी।
1980 में शामिल हुआ था एएन-32 विमान
सोवियत एरा का यह एयरक्राफ्ट 1980 में भारतीय वायुसेना में शामिल किया गया था। इसे लगातार अपडेट किया गया। हालांकि लापता प्लेन एएन-32 इन अपग्रेडेड एयरक्राफ्ट का हिस्सा नहीं है।
2016 में भी लापता हुआ था विमान
तीन साल पहले 22 जुलाई 2016 को भारतीय वायुसेना का एयरक्राफ्ट एएन-32 लापता हो गया था। इसमें 29 लोग सवार थे। एयरक्राफ्ट चेन्नई से पोर्ट-ब्लेयर की ओर जा रहा था। बंगाल की खाड़ी के बाद इसका संपर्क टूट गया।