जायदाद के खातिर छोटे भाई की विधवा पत्नी का गला काट डाला

बरेली (नमस्कार न्यूज)। जायदादा के विवाद को लेकर कमरे में सो रही भाई की विधवा पत्नी पर धारदार हथियार से हमला कर जेठ ने मौत के घाट उतार दिया। विधवा ने कुछ दिन पहले ही बहेड़ी थाने में जेठ के खिलाफ तहरीर देकर जान को खतरा बताया था। बावजूद इसके पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। मृतका के देवर ने थाने में तहरीर देकर जेठ, जेठानी व उसके साले के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। घटना के बाद से ही आरोपी फरार हैं। पुलिस का कहना है कि आरोपी की तलाश में दबिशें दी जा रही हैं। जेठानी से थाने में पूछताछ की जा रही है।
बहेड़ी थाना क्षेत्र के दीननगर मढ़ि निवासी 21 वर्षीय गुड्डी देवी उर्फ गुड़िया के पति भूरे गिरी की बीते मार्च बीमारी के दौरान मौत हो गई। तब से वह सास जगवती और देवर ललित के साथ रहती थी। उनका जेठ कल्लू गिरी अपने परिवार के साथ इज्जतनगर की सैनिक काॅलोनी में रहता है। मृतका के देवर ललित गिरी ने थाने में तहरीर देते हुए बताया कि उनका बड़ा भाई कल्लू अक्सर उनकी भाभी गुड्डी के साथ मारपीट करता था। कल्लू नहीं चाहता था कि जमीन के बटावारे में गुड्डी को हिस्सा मिले, जबकि गुड्डी उसका विरोध कर रही थी। आरोप है कि कल्लू विधवा के मकान पर भी कब्जा करना चाहता था। इसीलिए वह अक्सर गांव आता था और झगड़ा करके चाला जाता था। शिकायत जब प्रधान से की गई तो प्रधान ने पंचायत की, लेकिन कल्लू वहां नहीं पहुंचा। इसके बाद विधवा महिला ने अपनी जान का खतरा बताते हुए थाने में शिकायत की। इसी बात से गुस्साया कल्लू बुधवार देर रात दीवार फांदकर घर में घुस आया और गुड्डी के गले पर धारदार हथियार से अचानक हमला कर दिया। उसने ताबड़तोड़ प्रहार कर गुडियां की गर्दन काट डाली। जिससे गुड्डी की मौके पर ही मौत हो गई। उस समय घर के बरामदे में एक चारपाई पर सास जगवती और दूसरी चारपाई पर देवर ललित सो रहा था। परिजनों का कहना है कि अगर गुड्डी की तहरीर पर पुलिस कार्रवाई करती तो शायद ऐसा नहीं होता। पुलिस ने ललित की तहरीर पर पुलिस ने उसके बड़े भाई कल्लू गिरी और उसकी पत्नी पुष्पा देवी और रिठौरा निवासी उसके साले गंठा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने शव का पंचायत नामा भर पोस्टमार्टम हाऊस भेज दिया। पुष्पा देवी से थाने में पूछताछ की जा रही है।


जमीन के विवाद में महिला का कत्ल हुआ है। आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। – डाॅ संसार सिंह, एसपी ग्रामीण