कमिश्नर ने की मंडलीय विकास कार्यों की समीक्षा

बरेली। कमिश्नर रणवीर प्रसाद ने शुक्रवार को आयुक्त सभागर में मंडलीय विकास कार्यों की प्र्रगति की समीक्षा की। बैठक में कमिश्नर ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिनके लक्ष्य पूर्ण नही होगें उनके खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। इस दौरान उन्होंने कहा कि कुपोषण मुक्त गांव की संख्या बढ़ाने पर अधिकारी अधिक ध्यान दें। 

कमिश्नर ने कहा कि प्लास्टिक प्रतिबंध के लिए नगर निकाय, खाद्य सुरक्षा, डेयरी, प्रदूषण विभाग, उद्योग विभाग व्यापक रुप से प्रतिदिन छापेमारी का अभियान चलाएं और दैनिक रिपोर्ट मेरे आॅफिस में भेजे। किसी भी दशा में पालीथीन थैली का प्रयोग दिखना नहीं चाहिए। इस दौरान उन्होंने भूजल गर्भ जल संरक्षण पर विशेष जोर दिया। मंडल में जो पौधारोपण का लक्ष्य दिया गया है सभी जनपद अपने-अपने यहां एक सप्ताह के अंदर पूरा करें। बैठक में मंडलायुक्त ने मलेरिया की रोकथाम एवं संचारी रोग नियंत्रण अभियान के पर और तेजी से चलाने के निर्देश दिए। उन्होंने एडी हेल्थ को निर्देश दिये कि जहां-जहां पर शिवरों का आयोजन हुआ उसकी सूचना तथा फोटोग्राफ तुरंत उपलब्ध कराए जाएं। आयुष्मान भारत सरकार योजना के अन्तर्गत मुख्य चिकित्साधिकारियों को निर्देश दिये कि गोर्डन कार्ड वितरण कराया जाये। बैठक मे पेंशन योजनायें, मनरेगा, ग्रामीण पेयजल, पुलों के निर्माण, नगरीय स्ट्रीट लाइटो, गन्ना भुगतान, विद्युत आपूर्ति, पारदर्शी किसान सेवा योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, सिंचाई, उद्योग, पशुपालन, उद्यान, आदि की बिन्दुवार समीक्षा की गई। इस अवसर पर डीएम वीरेन्द्र कुमार सिंह, जिलाधिकारी पीलीभीत वैभव श्रीवास्तव, जिलाधिकारी शाहजहांपुर अमृत त्रिपाठी, जिलाधिकारी बदायंू दिनेश कुमार, मुख्य विकास अधिकारी बरेली सत्येंद्र कुमार सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।