अयोध्या फैसलाः अशोक सिंघल के लिए सुब्रमण्यम स्वामी ने की ‘भारत रत्न’ की मांग

नई दिल्ली। अयोध्या मामले पर उच्चतम न्यायालय के फैसले के मद्देनजर बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के पूर्व अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष अशोक सिंघल को मरणोपरान्त ‘भारत रत्न’ देने की मांग की है। बीजेपी सांसद ने कहा है कि मोदी सरकार को जल्द से जल्द सिंघल को देश के सर्वोच्च सम्मान से सम्मानित करना चाहिए।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘जीत की इस घड़ी में श्री अशोक सिंघल को याद किया जाए। नमो सरकार को उनके लिए फौरन भारत रत्न की घोषणा करनी चाहिए। जब भगवान राम चाहते थे, तभी मंदिर के पुननिर्माण के लिए हरी झंडी दिखाई जा रही है। जय श्री राम।’

बता दें कि अशोक सिंघल को राम मंदिर आंदोलन का चीफ आर्किटेक्ट कहा जाता है। उन्होंने इस आंदोलन में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया और इसकी दशा और दिशा तय करने में अहम भूमिका निभाई। वह इस आंदोलन में शामिल बड़े चेहरों में से एक माने जाते हैं। वहीं वीएचपी के पूर्व अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने शनिवार को आए फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि राम मंदिर के लिये राम लला का जन्म स्थान दिया जाना लाखों कार्यकर्ताओं के बलिदान को सलाम है।