अयोध्या मामले का सौहार्दपूर्ण समाधान चाहती रही कांग्रेस : राजीव शुक्ला

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजीव शुक्ला ने शनिवार को अयोध्या विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी कभी भी श्रेय लेने की दौड़ में नहीं रही, क्योंकि वह इस मुद्दे का सौहार्दपूर्ण समाधान चाहती थी। शुक्ला ने बताया, कांग्रेस श्रेय लेने या बदनाम करने की लड़ाई में नहीं है। कांग्रेस हमेशा सौहार्दपूर्ण समाधान चाहती थी और आज सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया और इसका समाधान किया।

कांग्रेस नेता ने कहा कि 1993 में कांग्रेस सरकार ने पूरी जमीन का अधिग्रहण किया था, जिस पर अदालत ने शनिवार को फैसला दिया है। शुक्ला ने कहा, सभी लोगों को फैसले का सम्मान करना चाहिए और अदालत ने सभी विश्वासों को ध्यान में रखते हुए सर्वश्रेष्ठ निर्णय दिया है।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद शुक्ला की यह टिप्पणी आई है। कांग्रेस नेता ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर राम मंदिर मुद्दे का राजनीतिकरण करने का आरोप लगाते हुए कहा, भाजपा ने हमेशा राम मंदिर पर राजनीति की है। उनके लिए राजनीति महत्वपूर्ण रही है, लेकिन कांग्रेस के लिए समाधान महत्वपूर्ण रहा है, जो अब जाकर हुआ है।