दुधवा नेशनल पार्क में 109 साल पुरानी रेल लाइन होगी बंद

लखीमपुर। उत्तर प्रदेश के दुधवा नेशनल पार्क से होकर गुजरने वाली 109 साल पुरानी रेलवे लाइन बंद होने जा रही है। नानपारा और मैलानी के बीच 171 किलोमीटर लंबा रेल मार्ग जो जंगलों और खेतों से होकर यात्रियों को ले जाता है, वह लखीमपुर-मैलानी ब्रॉड गेज मार्ग के इस महीने के अंत में खुलने के बाद बंद हो जाएगा।

ऐसा जंगली जानवरों और जंगल के संरक्षण पर उच्च न्यायालय के एक आदेश के बाद किया जा रहा है। रेलवे अब मीटर गेज लाइन को एक धरोहर के रूप में संरक्षित करने की योजना बना रहा है। एक अधिकारी ने कहा, हम दुधवा आने वालों के लिए एक टॉय ट्रेन शुरू कर सकते हैं, जो जानवरों को नुकसान नहीं पहुंचाएगी।

दुधवा टाइगर रिजर्व के निदेशक संजय पाठक ने कहा कि पिछले 20 वर्षों में ट्रेन दुर्घटनाओं में 100 से अधिक जानवर मारे गए हैं। इनमें हिरण, बाघ, हाथी, मगरमच्छ, गैंडे और स्लॉथ बेयर शामिल हैं। इस बीच, नानपारा और मैलानी के बीच पड़ने वाले गांवों में रहने वाले 30 लाख से अधिक लोग रेल लाइन के बंद होने से प्रभावित होंगे। इन ग्रामीणों के लिए, रेलवे लाइन उनकी एकमात्र लाइफलाइन है जो उन्हें बाहरी दुनिया से जोड़ती है। पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (सीपीआरओ) पंकज सिंह ने कहा कि दुधवा से होकर जाने वाले मार्ग भागों में पूरे हो चुके हैं।