No Picture
यथार्थतः

भारत में बढ़ती जनसंख्या, बढ़ती दुर्दशा

चद्रकांत त्रिपाठी भारत में गरीबी और कुपोषण दोनों बढ़ रहे हैं। राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय की एक ताजा सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक वित्त वर्ष 2017-18 में उपभोक्ता खर्च (यानी रोजमर्रा की जरूरतों पर होने वाले खर्च) […]

No Picture
यथार्थतः

डाॅ. वशिष्ठ नारायण यानी ‘इंडियाज ब्यूटीफुल माइंड’

दुनिया से हर किसी को एक-न-एक दिन जाना ही पड़ता है। डॉ. वशिष्ठ नारायण सिंह भी नहीं रहे लेकिन उन जैसे महान गणितज्ञ का यूं चले जाना मन को कचोटता है। उन जैसी विलक्षण प्रतिभाएं […]

No Picture
यथार्थतः

शिवसेना के लिए भारी पड़ा अपना ही फॉर्मूला

चन्द्रकान्त त्रिपाठी महाराष्ट्र की सत्‍ता को लेकर राजनीतिक गतिरोध जारी है। शिवसेना, एनसीपी, कांग्रेस के बीच सरकार बनाने की राह निकल नहीं पाई कि राज्यपाल ने राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश कर दी है। भले […]

No Picture
यथार्थतः

ऐतिहासिक फैसला…स्वागतम्

सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या के दशकों पुराने विवाद में जो तारीखी फैसला दिया है, उसको देश के एक बड़े विवाद के समाधान की सार्थक दिशा के तौर पर देखा जा रहा है। जाहिर है कि […]

No Picture
यथार्थतः

करतारपुर पर पाकिस्तान की खराब नीयत

चन्द्रकान्त त्रिपाठी करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन होने में कुछ ही समय शेष है। लेकिन पाकिस्तान के रुख नेे कई आशंकाओं को जन्म दे दिया है। पाकिस्तान ने करतारपुर पर जो पंजाबी गाने का वीडियो रिलीज […]

No Picture
यथार्थतः

प्रदूषण को लेकर अब भी चेत जाओ

चन्द्रकान्त त्रिपाठी प्रदूषण इस देश के लिए गंभीर खतरा बनता जा रहा है। देश की राजधानी दिल्ली की स्थिति इतनी खराब है कि प्रदूषण के गंभीर स्तर को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट के पैनल ने […]

No Picture
यथार्थतः

आपकी निजता में ताकाझांकी

चन्द्रकान्त त्रिपाठी वॉट्सऐप कॉल के जरिए फोन जासूसी के नए खुलासे हैरान करने वाले हैं। सरकार ने वॉट्सऐप को नोटिस भेजकर उससे स्पष्टीकरण मांगा है। इस मामले में और भी व्यंग्यात्मक बात यह है कि […]

No Picture
यथार्थतः

हर चीज मुफ्त बांटने के सियासी दुष्परिणाम घातक होंगे

चन्द्रकान्त त्रिपाठी भारतीय राजनीति में मुफ्त की सुविधाओं की घोषणाएं करके मतदाताओं को ठगने एवं लुभाने की कुचेष्टाओं का प्रचलन बढ़ता ही जा रहा है। महाराष्ट्र एवं हरियाणा विधानसभा चुनाव के सन्दर्भ में ऐसी अतिश्योक्तिपूर्ण […]

No Picture
यथार्थतः

दीपावलीः सिर्फ दीपों का नहीं, मन का उजाला भी है जरूरी

चन्द्रकान्त त्रिपाठी हम हर वर्ष दीपावली मनाते हैं। दीपावली प्रकाश का पर्व है और दीया उजाले का प्रतीक है जो तमस को दूर करता है। ‘तमसो मा ज्योतिर्गमय’ अर्थात अंधकार से प्रकाश की ओरं ले […]

No Picture
यथार्थतः

हरियानवी नतीजे कांग्रेस के लिए सबक

चन्द्रकान्त त्रिपाठी हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीजों पर भाजपा तो मंथन करेगी ही, कांग्रेस को यह नतीजे बड़ा सबक बन गए हैं, क्योंकि उसने तो पाकर खो दिया है। चुनाव नतीज़ों से पीछे चलते हैं- […]